नीतीश कुमार का जनता के नाम खुला पत्र, कही ये बातें-

AJ डेस्क: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने चुनाव से पहले, बुधवार को बिहार के लोगों को पत्र लिखकर संदेश दिया है। उन्होंने पत्र के जरिए 2005 से अब तक बिहार की सेवा करने का मौका देने के लिए लोगों को धन्यवाद देते हुए आगे सक्षम एवं स्वावलंबी बिहार बनाने का संकल्प दोहराया।

 

नीतीश ने अपने पत्र में लिखा, “हमलोगों ने समाज में अमन-चैन और भाईचारे का वातावरण बनाया, डर का माहौल खत्म हुआ और सभी क्षेत्रों में विकास का मार्ग प्रशस्त हुआ। हमने शिक्षा-स्वास्थ्य के क्षेत्र पर विशेष ध्यान दिया है। छात्र-छात्राओं को साइकिल, पोशाक, छात्रवृत्ति दी गई। अस्पतालों में इलाज की बेहतर व्यवस्था की गई।”

 

83 प्रतिशत घरों में पीने का पानी-

उन्होंने सरकार द्वारा किए गए विकास कार्यो का उल्लेख करते हुए पत्र में लिखा, “हमारी सरकार में हजारों सड़कों और पुलों का निर्माण किया गया। विकसित बिहार के 7 निश्चयों के तहत हर घर में बिजली पहुंचा दिया। हर घर में शौचालय का काम, हर टोले तक संपर्कता का काम लगभग पूर्ण हुआ। 83 प्रतिशत घरों में पीने का पानी और अधिकांश घरों तक पक्की गली-नालियां बन गई हैं।”

 

सामाजिक अभियान चलाए-

JDU अध्यक्ष ने अपने पत्र में किसानों की आय बढ़ाने के लिए शुरू की गई योजनाओं की चर्चा की है। उन्होंने आगे लिखा, “शराबबंदी के लिए तथा बाल विवाह, दहेज प्रथा के विरुद्ध सामाजिक अभियान चलाया गया है। जल-जीवन-हरियाली अभियान के माध्यम से जलवायु परिवर्तन के खतरों से निपटने के लिए काम हो रहा है।”

 

पत्र में कोरोना काल में किए गए कार्यों का भी उल्लेख किया गया है। पत्र में नीतीश कुमार ने आगे लिखा, “हम जमीन पर काम करने में यकीन करते हैं, प्रचार में नहीं। यदि हमें अगली बार सेवा का मौका मिलता है तो हम 7 निश्चय के द्वितीय चरण को लागू करेंगे।”

 

हमने जो काम किया वह सब आपके सामने है-

उन्होंने पत्र के अंत में लिखा, “हमने जो काम किया वह सब आपके सामने है। लोगों की सेवा करना ही हमारा धर्म है। मुझे विश्वास है कि आपके सहयोग और आशीर्वाद से आनेवाले दिनों में हर राज्य को विकास की और ऊंचाइयों तक पहुंचाते हुए सक्षम एवं स्वावलंबी बिहार बनाएंगे।”

 

 

 

 

 

‘अनल ज्योति’ के फेसबुक पेज से जुड़ने के लिए अभी इस लिंक पर क्लिक करके लाइक👍 का बटन दबाए…

https://www.facebook.com/analjyoti.in/?ti=as

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

Article पसंद आया तो इसे अभी शेयर करें…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »