प.बंगाल के मिदनापुर में केंद्रीय मंत्री मुरलीधरन के काफिले पर TMC समर्थकों ने हमला किया, देखें Video-

AJ डेस्क: केंद्रीय विदेश राज्य मंत्री एवं भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता वी मुरलीधरन के काफिले पर गुरुवार को हमला हुआ। केंद्रीय मंत्री के काफिले हमला उस समय हुआ जब वह पश्चिमी मिदनापुर के पंचखुड़ी इलाके से गुजर रहे थे। इसी दौरान स्थानीय लोगों ने उन पर हमला कर दिया। केंद्रीय मंत्री का दावा है कि उनके काफिले पर यह हमला ‘टीएमसी के गुंडों’ ने कराया। मुरलीधरन ने इस घटना का वीडियो अपने ट्विटर हैंडल पर शेयर किया है। इस वीडियो में कुछ लोगों को पत्थर और डंडे से वाहनों को निशाना बनाते हुए देखा जा सकता है। इस घटना में मंत्री की कार का पिछला विंडो भी टूट गया।

 

 

केंद्रीय मंत्री ने ट्वीट किया वीडियो-

अपने ट्वीट में मुरलीधरन ने कहा, ‘पश्चिम मिदनापुर में टीएमसी के गुंडों ने मेरे काफिले पर हमला किया। इस हमले में मेरी कार के शीशे टूट गए। उन्होंने हमारे कर्मचारियों पर हमले किए। मैं अपना दौरा सीमित कर रहा हूं।’

 

देखें Video-

 

चुनाव परिणाम के बाद हिंसा में अब तक 14 लोगों की मौत-

केंद्रीय मंत्री पर यह कथित हमला ऐसे समय हुआ है जब चुनाव के बाद बाद टीएमसी और भाजपा ने एक दूसरे के कार्यकर्ताओं पर हमले करने का आरोप लगाया है। बंगाल में चुनाव बाद की हिंसा का आंकलन करने के लिए गृह मंत्रालय ने चार सदस्यों की एक समिति बनाई है। चुनाव परिणाम के बाद हुई हिंसा में अब तक राज्य में कम से कम 14 लोगों की जान जा चुकी है।

 

 

भाजपा ने टीएमसी पर लगाया आरोप-

गत दो मई को आए चुनाव नतीजों में टीएमसी ने प्रचंड जीत दर्ज की। इसके कुछ समय बाद भाजपा ने दावा किया कि राज्य भर में ‘टीएमसी के गुंडे’ उसके कार्यकर्ताओं पर हमले कर रहे हैं और कार्यालयों में तोड़फोड़ कर रहे हैं। पार्टी ने कहा कि नंदीग्राम सीट जीतने के बाद भाजपा उम्मीदवार सुवेंदु अधिकारी की कार पर भी हमला हुआ।

 

 

केंद्र ने हिंसा पर मांगी है रिपोर्ट-

हालांकि, टीएमसी ने भाजपा के आरोपों को खारिज किया। अगले दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बंगाल की हिंसा पर चिंता जाहिर की। बंगाल हिंसा के बाद केंद्र बंगाल पर दबाव बनाने लगा है। पीएम ने राज्यपाल जगदीप धनखड़ से बात की जबकि गृह मंत्रालय ने राज्य से रिपोर्ट मांगी है। भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा मंगलवार को राज्य के दौरे पर गए और कुछ पीड़ित परिवारों से मिले।

 

 

 

 

 

 

‘अनल ज्योति’ के फेसबुक पेज से जुड़ने के लिए अभी इस लिंक पर क्लिक करके लाइक👍 का बटन दबाए…

https://www.facebook.com/analjyoti.in/?ti=as

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

Article पसंद आया तो इसे अभी शेयर करें…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »