Mon. Nov 18th, 2019

प.बंगाल: चर्चित तिहरे हत्याकांड का मुख्य अभियुक्त हुआ गिरफ्तार

AJ डेस्क: पश्चिम बंगाल के बहुचर्चित मुर्शिदाबाद ट्रिपल मर्डर मामले में पुलिस ने खुलासा करते हुए इस घटना को सुलझाने का दावा किया है, बताया जा रहा है कि इस मामले के मुख्य आरोपी को भी गिरफ्तार कर लिया गया है, गौरतलब है कि राज्य के मुर्शिदाबाद में विजयदशमी के दिन एक परिवार के तीन लोगों की क्रूरतम तरीके से हत्या कर दी गई थी।

 

 

 

 

मृतक बंधुप्रकाश पाल प्राइमरी स्कूल में शिक्षक थे और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से भी जुड़े थे। हत्यारों ने बंधुप्रकाश की गर्भवती पत्नी और आठ साल के बेटे को भी नहीं छोड़ा था और बेहद नृशंसता के साथ उन सभी की हत्या कर दी थी। पाल और उसके परिवार की हत्या के बाद बंगाल में बीजेपी ने टीएमसी पर जमकर हमला बोला था।

 

 

पुलिस ने मुर्शिदाबाद तिहरे हत्याकांड के मुख्य आरोपी को मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया। मुर्शिदाबाद के पुलिस अधीक्षक ने बताया कि उत्पल बेहरा को जिले में सागरदीघि के साहापुर इलाके से सुबह गिरफ्तार किया गया, वह पेशे से राजमिस्री का काम करता है।पुलिस ने बताया कि बेहरा ने दो जीवन बीमा पॉलिसी के लिए पाल को धन दिया था।

 

 

पुलिस ने कहा, ‘हालांकि पाल ने पहली पॉलिसी के लिए रसीद दी थी लेकिन उसने दूसरी पॉलिसी के लिए उसे रसीद नहीं दी। पाल और बेहरा के बीच पिछले कुछ सप्ताह से इस मामले को लेकर विवाद चल रहा था। पाल ने उसका अपमान भी किया था, जिसके बाद बेहरा ने उसकी हत्या करने का फैसला किया।’ पुलिस ने दावा किया कि बेहरा ने अपना अपराध स्वीकार कर लिया है।

 

 

गौरतलब है कि मृतक बंधु पाल एक प्राथमिक विद्यालय में टीचर थे और काफी समय से संघ से जुड़े हुए थे। विजयदशमी के दिन बंधु करीब सुबह 10 बजे बाजार से लौटे थे और उसके कुछ देर बाद उनके घर से चीखने की आवाज आई थी। पड़ोसियों की मानें तो एक शख्स उनके घर से भागते हुए दिखाई दिया था। तुरंत ही लोग वहां पहुंचे जहां सबके शरीर खून से लथपथ पड़े थे। तुरंत पुलिस को सूचना दी गई थी।

 

 

 

 

हमारे फेसबुक पेज से जुड़ने के लिए अभी अपने फेसबुक पेज के ऊपर SEARCH में जाए और TYPE करें analjyoti.com और LIKE का बटन दबाए…

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

Article पसंद आया तो इसे अभी शेयर करें…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »