Fri. Apr 3rd, 2020

चलचित्र: भोजपुरी फिल्म के अमिताभ बने ‘कुणाल सिंह’, 273 फिल्म कर चुके

AJ डेस्क: 40 साल के कर‍ियर में भोजपुरी की 273 फ‍िल्‍में करने वाले कुणाल सिंह को ‘भोजपुरी का अमिताभ बच्‍चन’ कहा जाता है। कुणाल सिंह भोजपुरी सिनेमा के ऐसे सितारे हैं जिनकी लोकप्रियता ठीक उसी तरह है जैसे बॉलीवुड के सितारों की होती है। कुणाल सिंह की फ‍िल्‍में इतिहास रचती हैं और कई महीनों तक सिनेमाघरों में जमी रहती हैं। भोजपुरी की हर तीसरी फ‍िल्‍म में कुणाल सिंह का रोल होता है।

 

 

1983 में रिलीज हुई फ‍िल्‍म ‘गंगा किनारे मेरा गांव’ से कुणाल सिंह को जबरदस्‍त पहचान मिली थी। यह फ‍िल्‍म बनारस के एक सिनेमाघर में 16 महीने तक लगी रही थी। यह भोजपुरी सिनेमा का ऐसा रिकॉर्ड है जिसे आज तक कोई ब्रेक नहीं कर पाया है। भोजपुरी के सुपरस्‍टार खेसारी लाल यादव हों, निरहुआ हों या पवन सिंह, सभी इस रिकॉर्ड के आगे नतमस्‍तक हैं।

 

 

 

बॉलीवुड एक्‍टर अमिताभ बच्‍चन भी भोजपुरी सिनेमा में काम कर चुके हैं। अमिताभ ने भोजपुरी फ‍िल्‍म गंगोत्री में काम किया था जिसमें कुणाल सिंह भी लीड रोल में थे। कुणाल भोजपुरी सिनेमा में 40 साल पूरे कर चुके हैं। 2012 में उन्‍हें राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने राष्ट्रकवि दिनकर अवॉर्ड से नवाजा था।

 

 

राजनैतिक परिवार से रखते हैं ताल्‍लुक

कुणाल सिंह राजनैतिक परिवार से आते हैं। उनके पिता बिहार में विधायक रह चुके हैं और बाद में मंत्री भी बने थे। हालांकि कुणाल ने राजनीति की राह न चुनकर अभिनय में करियर बनाया।2014 में कुणाल ने पटना से लोकसभा चुनाव लड़ा। हालांकि वह जीत दर्ज नहीं कर सके।

 

 

 

 

 

 

हमारे फेसबुक पेज से जुड़ने के लिए अभी अपने फेसबुक पेज के ऊपर SEARCH में जाए और TYPE करें analjyoti.com और LIKE का बटन दबाए…

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

Article पसंद आया तो इसे अभी शेयर करें…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »