Mon. Jun 1st, 2020

कोरोना पीड़ित के गांव में होने की सूचना देने वाले की हो गयी निर्मम हत्या

AJ डेस्क: बिहार के सीतामढ़ी में कथित तौर पर महाराष्ट्र से लौटे 2 लोगों की प्रशासन को सूचना देने पर सोमवार को एक युवक की हत्या कर दी गई। मृतक के परिजनों ने आरोप लगाया कि कोरोना वायरस की जांच के बाद लौटने पर महाराष्ट्र से लौटे लोगों ने अपने परिवार के सदस्यों के साथ मिलकर युवक को पीट-पीटकर मार डाला। रिपोर्ट्स के मुताबिक, मामला सीतामढ़ी के रुन्नीसैदपुर में स्थित मधौल गांव का है। पुलिस ने हत्या के 2 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

 

 

मृतक के परिजनों के मुताबिक, महाराष्ट्र से लौटे 2 लोगों की जानकारी गांव में ही रहने वाले बबलू कुमार ने कोरोना हेल्प सेंटर को दी थी। परिजनों का आरोप है कि इससे कोरोना वायरस के दोनों संदिग्ध नाराज हो गए और स्वास्थ्य विभाग को अपना सैंपल देने के बाद अपने परिवार के अन्य 5 लोगों के साथ मिलकर युवक को पीट-पीटकर मार डाला। घटना की सूचना मिलने पर पुलिस घटनास्थल पर गई और 2 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिय। पुलिस ने सातों आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है और मामले की जांच कर रही है।

 

 

मृतक बबलू कुमार का फ़ाइल फोटो

 

 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पुलिस को आपसी रंजिश में युवक की हत्या की आशंका है। पुलिस ने जब कॉल डीटेल्स निकालने के लिए परिजनों से मृत युवक का मोबाइल नंबर मांगा तो बबलू के परिवार वालों ने इनकार कर दिया। गौरतलब है कि बिहार सरकार ने लोगों को कहा है कि वे अपने गांव और कस्बों में बाहरी राज्यों से आने वाले लोगों की जानकारी हेल्पसेंटर और प्रशासन को जरूर दें, ताकि कोरोना वायरस के संदिग्ध लोगों की जांच की जा सके। हालांकि जानकारी देने वालों की सुरक्षा को लेकर बिहार सरकार ने कोई ठोस पहल नहीं की है।

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

Article पसंद आया तो इसे अभी शेयर करें…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »